Mayur News

खबरों की दुनिया

डिजिटलाइजेशन / जनवरी में फास्टैग से सरकार ने रोजाना कमाए 54 करोड़ रुपए, साल के पहले महीने में हुई 1622 करोड़ की कमाई

1 min read
Vestibulum ac diam sit amet quam vehicula elementum sed sit amet dui. Pellentesque in ipsum id orci porta dapibus.
  • यूटिलिटी डेस्क. जनवरी महीने में फास्टैग से सरकार को टोल प्लाजा से रोजना 54 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई हुई है। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार इस महीने फास्टैग से सरकार की 1622 करोड़ रुपए की कमाई हुई है। नेशनल हाईवे स्थित टोल प्लाजा पर फास्टैग से टोल टैक्स वसूला जा रहा है। हालांकि अभी हाईवे पर एक-चौथाई टोल बूथ पर नकद और फास्टैग दोनों से भुगतान हो सकेगा। इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम के तहत 28 जनवरी तक 1.4 करोड़ से ज्यादा फास्टैग जारी किए जा चुके हैं। एनएचएआई ने 15 फरवरी से अपने सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया है।

ये हैं दिसंबर में फास्टैग से टोल कलेक्शन के आंकड़े 

  • जनवरी 2020 में नेशनल हाइवे पर टोल प्लाजा पर फास्टैग से करीब 9 करोड़ 30 लाख ट्रांजेक्शन हुए हैं। इससे सरकार की 1622 करोड़ रुपए की कमाई हुई।
  • दिसंबर में सरकार को इन टोल प्लाजा से फास्टैग के जरिए 1256 करोड़ रुपए की आमदनी हुई थी। इस दौरान फास्टैग से 6 करोड़ 40 लाख ट्रांजेक्शन हुए।
  • नवंबर में टोल प्लाजा पर फास्टैग से 3 करोड़ 40 लाख ट्रांजेक्शन हुए थे। नवंबर में इन ट्रांजेक्शन्स से करीब 774 करोड़ रुपए की कमाई हुई।
  • अक्टूबर 2019 में फास्टैग से 3 करोड़ 10 लाख ट्रांजेक्शन हुए थे, जिससे सरकार को 703 करोड़ रुपए की आमदनी हुई थी।

फास्टैग से पार्किंग और फ्यूल का भी कर सकेंगे भुगतान

  • टोल टैक्स पर टैक्स वसूली के अलावा जल्द ही पूरे देश में फ्यूल पेमेंट और वाहन पार्किंग चार्ज का भुगतान भी किया जा सकेगा। इसकी शुरुआत हैदराबाद एयरपोर्ट से हो चुकी है, जहां कार पार्किंग समेत अन्य चार्ज का भुगतान फास्टैग (FASTag) से होगा। इसे फास्टैग 2.0 नाम से जाना जाएगा। हैदराबाद में सफलता मिलने के बाद यह परियोजना दिल्ली हवाई अड्डे पर भी शुरू की जाएगी।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बताया कि फास्टैग 2.0 पायलट प्रोजेक्ट दो फेस में लॉन्च किया है। पहला चरण दरअसल एक नियंत्रित पायलट परीक्षण है, जिसके तहत केवल आईसीआईसीआई टैगों का ही इस्तेमाल किया जाएगा। पायलट परियोजना के दूसरे चरण में सभी अन्य बैंकों द्वारा जारी किए जाने वाले टैगों को कवर किया जाएगा।

आज की खबरे....

Copyright © All rights reserved. | E-suvidha Teachnology