Mayur News

खबरों की दुनिया

जेएनयू / थरूर ने केजरीवाल को बेबस मुख्यमंत्री बताया, पूछा- लोगों को उन्हें किस आधार पर वोट देना चाहिए

1 min read

नई दिल्ली. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बेबस मुख्यमंत्री बताया। उन्होंने कहा- केजरीवाल जेएनयू हिंसा में घायल हुए छात्रों से मिलने भी नहीं जा पाए। थरूर ने केजरीवाल पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मजबूती से न खड़े होने का आरोप भी लगाया।

थरूर ने कहा- केजरीवाल शायद चाहते हैं कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोधी और समर्थक दोनों ही उनकी तरफ रहें, इसलिए उन्होंने इस मामले पर मजबूत स्टैंड नहीं लिया। यदि वे इस मामले पर कुछ बोल ही नहीं सकते तो आखिर लोगों को किस आधार पर केजरीवाल को वोट देना चाहिए।

केजरीवाल ने कभी शीला दीक्षित को बेबस बताया था- थरूर

थरूर ने दावा किया कि केजरीवाल ने कभी दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को बेबस मुख्यमंत्री बताया था। अब उन्हें खुद अपना ट्वीट पढ़ना चाहिए। क्या लोग ऐसा मजबूर मुख्यमंत्री चाहते हैं, जब उनके बच्चों को लाठीचार्ज का सामना करना पड़े तो मुख्यमंत्री उनसे मिलने भी न जाए।

‘केजरीवाल किसके आदेश सुन रहे हैं’

थरूर ने कहा- मैं नहीं जानता कि केजरीवाल किसके आदेश सुन रहे हैं। आखिर आपको किसने कहा कि छात्रों के साथ हुई हिंसा के खिलाफ न बोले, उनसे न मिले या फिर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ स्पष्ट स्टैंड न लें? आप तो मुख्यमंत्री हैं। कोई दूसरा नहीं है जो आपको आदेश दे।

पुलिस ने जेएनयू में कोई कार्रवाई नहीं की- केजरीवाल

5 जनवरी को जेएनयू कैंपस में नकाबपोशों हमलावरों ने छात्रों-शिक्षकों पर रॉड और पत्थरों से हमला कर दिया था, जिसमें 30 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मामले में छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत 9 छात्रों की पहचान उजागर की थी। वहीं, केजरीवाल ने जेएनयू हिंसा पर कहा था कि पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की क्योंकि उन्हें केंद्र से आदेश था कि हस्तक्षेप न करें।

Copyright © All rights reserved. | E-suvidha Teachnology