Mayur News

खबरों की दुनिया

बेंगलुरु वनडे / टीम इंडिया टेस्ट में लगातार 21 मेडन फेंकने वाले नाडकर्णी को श्रद्धांजलि देने के लिए काली पट्टी बांधकर उतरी

1 min read
Vivamus magna justo, lacinia eget consectetur sed, convallis at tellus. Quisque velit nisi, pretium ut lacinia in, elementum id enim. Mauris blandit aliquet elit, eget tincidunt nibh pulvinar.

Jan 21,2020, 09:17 PM IST

खेल डेस्क. भारतीय टीम पूर्व क्रिकेटर बापू नाडकर्णी को श्रद्धांजलि देने के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु वनडे में काली पट्टी बांधकर उतरी। शुक्रवार को पूर्व ऑलराउंडर नाडकर्णी का निधन मुंबई में हुआ था। वे 86 साल के थे। नाडकर्णी ने 1963-64 में इंग्लैंड के खिलाफ मद्रास (अब चेन्नई) टेस्ट में लगातार 21 ओवर में मेडन किए थे। तब उन्होंने 32 ओवर में सिर्फ 5 रन दिए थे। उस दौरान कुल 27 ओवर मेडन फेंके थे। हालांकि, उन्हें कोई सफलता नहीं मिली थी।

नाडकर्णी बाएं हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के स्पिनर थे। उन्होंने भारत के लिए 41 टेस्ट में 1414 रन बनाए। इस दौरान कुल 88 विकेट भी अपने नाम किए। 43 रन पर 6 विकेट उनका बेस्ट प्रदर्शन रहा। उन्होंने मुंबई के लिए 191 प्रथम श्रेणी मुकाबलों में 500 विकेट अपने नाम किए थे। इस दौरान 8880 रन भी बनाए थे। नाडकर्णी ने 1955 में न्यूजीलैंड के खिलाफ दिल्ली टेस्ट में डेब्यू किया था। वहीं, आखिरी मैच ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ ही 1968 में खेला था।

पाकिस्तान के खिलाफ 1960-61 में किफायती गेंदबाजी की थी
नाडकर्णी ने पाकिस्तान के खिलाफ 1960-61 में 32 ओवर में सिर्फ 23 रन दिए थे। तब 24 ओवर में मेडन किए थे। उन्हें एक विकेट भी नहीं मिला था। वहीं, दिल्ली में उसी सीरीज में 34 ओवर में से 24 मेडन फेंके थे। 24 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया था।

Copyright © All rights reserved. | E-suvidha Teachnology