Mayur News

खबरों की दुनिया

प्रधानमंत्री की पहल / मोदी ने पुणे की नर्स से फोन पर बात की, पूछा- सुरक्षा को लेकर परिवार का डर कैसे दूर करती हैं

1 min read

पुणे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुणे की नर्स छाया जगताप से शुक्रवार को फोन पर बात की। निगम के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। छाया पुणे नगर निगम के अधीन चलने वाले नायडू अस्पताल में काम करती हैं। प्रधानमंत्री ने बातचीत की शुरुआत मराठी भाषा में की। उन्होंने छाया से कहा कि आप संक्रमितों की देखभाल समर्पण के साथ कर रही हैं। ऐसे में आप सुरक्षा को लेकर अपने परिवार का डर कैसे दूर करती हैं। इस पर नर्स ने कहा, ‘‘मैं अपने परिवार के बारे में चिंतित हूं, लेकिन इस स्थिति में हमें मरीजों की सेवा करनी है। मैं इसे मैनेज कर रही हूं।’’ पूरी बातचीत का ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

प्रधानमंत्री ने नर्स से कहा कि आपकी तरह लाखों नर्स, पैरामेडिकल कर्मचारी और डॉक्टर सच्चे तपस्वी की तरह हैं। ये फिलहाल देश के विभिन्न अस्पतालों में मरीजों की सेवा कर रहे हैं। मैं आपको बधाई देना चाहता हूं। मैं आपका अनुभव सुनकर काफी खुश हूं।

मोदी ने पूछा- क्या अस्पताल में भर्ती मरीज डरते हैं?

मोदी ने पूछा कि क्या अस्पताल में भर्ती मरीज डरते भी हैं। जवाब में छाया ने कहा, ‘‘हम मरीजों से बात करते हैं। उन्हें कहते हैं कि वे डरे नहीं। मरीजों को समझाते हैं कि उनके साथ कुछ नहीं होगा। उनका टेस्ट निगेटिव आएगा। जिन लोगों का टेस्ट पॉजिटिव आता है, हम उनका हौसला बढ़ाते हैं।’’ छाया ने मोदी को बताया कि 7 मरीज अस्पताल से ठीक होकर घर जा चुके हैं। 

‘आपके जैसा प्रधानमंत्री होना देश का सौभाग्य’
छाया ने प्रधानमंत्री के पूछने पर कोरोना संक्रमितों के इलाज में जुटे स्वास्थ्यकर्मियों को संदेश दिया। उन्होंने कहा, ‘‘हमें डरने की जरूरत नहीं है। इस बीमारी को भगाना है और देश को जिताना है। अस्पतालों और कर्मचारियों का यही सिद्धांत होना चाहिए।’’ छाया ने मोदी से यह भी कहा कि मैं सिर्फ अपना काम कर रहीं हूं, लेकिन आप तो 24 घंटे देश की सेवा कर रहे हैं। हमें आपका आभारी होना चाहिए। आपके जैसा प्रधानमंत्री होना देश का सौभाग्य है। 

Copyright © All rights reserved. | E-suvidha Teachnology